मुख्य पृष्ठ

और लेख

  • एफआईए टेक्नोलॉजी बैंकिंग सेवाओं को हाशिए पर मौजूद लोगों तक पहुंचाकर वित्तीय समावेशन के काम में जुटी है। हरियाणा की इस कंपनी को मिलेनियम अलायंस सम्मान हासिल हो चुका है।  

  • नेक्सस प्रशिक्षित हाइड्रोटेक सॉल्यूशंस ने सौर ऊर्जा से चालित ऐसी जल शुद्धिकरण प्रणाली विकसित की है जिससे लोग जब चाहें, थोड़ा पैसा खर्च कर सुरक्षित पानी हासिल कर सकेंगे।  

  • फुलब्राइट-नेहरू शोधार्थी डायना ज्यू-राजासिंह उस एस्समार्ट की सह-संस्थापिका हैं, जो मौजूदा स्थानीय नेटवर्कों में डिस्ट्रीब्यूशन चैनल बनाकर जीवन को बेहतर बनाने वाली तकनीकें मुहैया करा रही हैं।  

  • रोडबाउंस की तकनीक स्मार्टफोन से यह दर्ज़ करती है कि किस जगह गाडि़यां कितनी तेज़ी से उछल रही हैं। इन आंकड़ों का विश्लेषण कर बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाने और यात्रा सुरक्षित बनाने की कोशिश होती है।  

  • नेक्सस से प्रशिक्षित स्टार्ट-अप शिलिंग्स एयर वायु प्रदूषण खत्म करने के लिए ऐसे उत्पाद और सेवाएं देने का काम करती है जो किफायती होने के साथ साफ हवा का आकलन करने में भी मदद देते हैं।  

  • नेक्सस प्रशिक्षित ‘लिफाफा’ ने कचरा बीनने वाले के साथ साझेदारी करके प्लास्टिक कचरे से चमड़े जैसा परिष्कृत उत्पाद तैयार किया और उससे बनाए फैशन की दुनिया के नए-नए उत्पाद!  

  • भारतीय गांवों में बिजली की कमी से जूझ रहे घरों और छोटे उद्यमों को सिंपा नेटवर्क्स सौर ऊर्जा सेवाएं उपलब्ध करा रही है।

  • अमेरिकी वाटर टेक्नोलॉजी कंपनी जाइलम न केवल पानी के टिकाऊ  इस्तेमाल को संभव बनाती है, बल्कि जल प्रदूषण को दूर करते हुए सबके लिए स्वच्छ पेयजल मुहैया कराती है।  

  • नई दिल्ली की एक स्टार्ट-अप कंपनी क्रिया लैब्स कृषि कचरे को मूल्यवान संसाधन में तब्दील कर उससे पर्यावरण अनुकूल कागज़ के साथ ही प्लेट और कटोरी भी बना रही है।  

  • ‘‘हेल्प अस ग्रीन’’ फूलों और कृषि अवशेषों को संसाधित कर कई तरह के उत्पाद तैयार करती है जिनमें थर्मोकोल का पर्यावरण अनुकूल विकल्प भी शामिल है।  

  • अमेरिकी स्टार्ट-अप कंपनी प्रोमेथियन पॉवर सिस्टम्स ने भारत के डेयरी किसानों के लिए तापीय ऊर्जा पर आधारित एक ऐसी तकनीक प्रस्तुत की है जो द्रुत गति से उत्पादों को ठंडा कर देती है।  

  • आईवीएलपी प्रोग्राम में भागीदारी करने वाली अरुणा कप्पागंटूला बांस के बने घरों को बढ़ावा दे रही हैं और पारंपरिक भवन सामग्री का पर्यावरण हितैषी विकल्प मुहैया करा ग्रामीण और आदिवासी समुदायों की मदद कर रही हैं।

  • ‘खेती’ के कम लागत वाले मॉड्यूलर ग्रीनहाउस छोटे किसानों को खराब मौसम से फसल को होने वाले नुकसान से बचा सकते हैं।

  • साइकिल रिक्शा चलाने वालों के काम को सुरक्षा मानकों के हिसाब से बेहतर बनाने के साथ उनकी मेहनत को भी सहेजने का काम करता है।  

पृष्ठ

वीडियो स्पैन वीडियो गैलरी